What is Mutual Fund in Hindi

 

what-is-mutual-fund-in-hindi

 

 

आज हम आपको बताएँगे की what is mutual fund in hindi? ये कैसे काम करता है ? mutual fund के फायदे क्या है ? Mutual Fund कितने तरह के होते है ! इस बारे मे सारा पड़ेगे!

मैं हर रोज किसी न किसी माध्यम से mutual funds के बारे मे सुन ही लेता हु! चाहे वो TV  पर चल रहा कोई ad हो या फिर कही से कोई Email आ जाती है Mutual fund के बारे मे ! सोचा मुझे जितनी knowledge है mutual funds के बारे मे आपके साथ शेयर कर दू!

Dosto, आज का जमाना internet का जमाना है यानी एक ही जगह पर बैठ कर पूरी दुनिया मे क्या चल रहा है ये पता चल जाता है! हर काम आज कल internet पर बैठ कर online हो जाता है!वो चाहे बच्चो की स्कूल की फीस जमा करना या फिर बैंक मे पैसे जमा करना! हर काम computer से हो जाता है! आज कल तो हम online share भी बेच और खरीद सकते है!

Share की बात याद आई ही है तो आपने भी बहुत बार TV पर, मोबाइल पर, कही चलते फिरते Mutual fund के बारे मे सुना होगा! किसी ad मे ये कहते सुना होगा की थोडा सा पैसा mutual fund मे डालिए और कुछ ही सालो मे ये आपको बहुत ही अच्छी return देगा जो शायद आपका saving bank तो बिलकुल भी नहीं दे सकता तो चलिए आज हम इस पर बात करेगे की mutual fund kya hai?  क्यों इसने market मे इतना तहलका मचा रखा है! 

What is Mutual Fund in Hindi?

Mutual fund को समझने के लिए आपको थोडा share market के बारे मे समझना होगा. घबराइए नहीं ! मुझे पता है की share market का नाम सुनते ही हम थोडा uncomfortable सा हो जाते है! क्यूंकि हमने कभी न कभी ये सुन रखा होता है की फलाने के बेटे ने share market मे पैसे लगाये थे !

पहले तो उसे बहुत profit हुआ परन्तु बाद मे उसके सारे पैसे डूब गए! मुझे यकीन है आपने भी ऐसे कही न कही कभी न कभी अवश्य सुना होगा! मैंने भी सुना है! इसलिए हम लोगो को थोडा दर लगता है stock market या share market मे पैसा लगाने मे. क्यूंकि market कब निचे चली जाए ये कोई नहीं बता सकता!

 

खैर! ये तो बात रही share market की! अब हम बात करने जा रहे है Mutual funds की! यहाँ कोई नहीं आपको कहने जा रहा की आप इसके share खरीद लो, या उसके share खरीद लो!

चलो तो भी मे थोडा आपको share का थोडा सिर्फ knowledge के लिए बता देता हु की कैसा होता है! अगर हम share की बात करे और हमे अगर share खरीदने हो तो हम सीधे सीधे 10-20 या जितने भी पैसे के चाहे उतने किसी कम्पनी के share खरीद लेते है और फिर लग जाते है देखने मे की उस कंपनी के share ऊपर जा रहे है या निचे! अगर ऊपर गए तो profit हो रहा है नहीं तो नुक्सान! ये तो रही share Market की थोड़ी सी जानकारी!

अगर हम mutual fund की बात करे तो mutual fund दो शब्द से बना है! Mutual मतलब एक नहीं लोगो का समूह और fund मतलब पैसा! तो मोटा मोटा पहले ये जानने को मिला की mutual fund मे लोगो का समूह होता है जो मिल के पैसा market मे लगाते है! Mutual fund मे भी पैसा share market मे ही लगाया जाता है! मुझे पता है आप ये पढ़ कर सोच रहे होगे की फिर share market औरmutual Fund मे क्या फरक हुआ!

चलिए हम अब देखेगे की अगर mutual fund भी share market जैसा ही है तो हम अपना पैसा सीधा share market मे ही लगा दे! फिर इतनी ads क्यों आती है की mutual fund मे पैसा लगाये!

आइये! अब हम shares और mutual fund के अंतर को समझते है  

ये तो आप जानते है की share market मे आपने एक बार आपने एक बार share ले लिए तो उसको बेचने खरीदने की जिमीदारी आप पर!

अगर हम mutual fund की बात करे तो mutual fund मे क्या होता है की बहुत सारे लोग मिल कर किसी फण्ड मे पैसे लगाते है और उसी को हम mutual fund कहते है!

Mutual fund kya hai इसको हम 1 उदहारण से समझते है!

 

Mutual-fund-kya-hota-hai

 

Example के साथ समझते है What is Mutual Fund in Hindi

मान लीजिये Ashok के पास 2000 रुपए है! और वो इसको invest करना चाहता है! और वो सोच रहा है की इसको किसी अच्छे से share Market मे डालता हु!

  • अब अगर वो 2000 रूपए के share खरीदना चाहता है तो वो internet पर जाएगा और किसी मे कंपनी के शेयर ले लेगा 2000 रूपए तक!
  • Ashok उन्ही companies का शेयर खरीद सकता है जिसका price 2000 तक हो या उससे कम! अगर किसी company का share 2000 से ऊपर है तो Ashok उसे नहीं खरीद पायेगा क्यूंकि उसके पास सिर्फ 2000 रूपए ही है!

 

  • परन्तु Ashok को ऐसी company का share पसंद आया है जिसका market आने वाले समय मे ऊपर जाने वाला है परन्तु उसका price 10000 रूपए है जो की Ashok के budget से बाहर है!

 

  • Ashok उदास हो जाता है तो फिर Mahesh ने बताया की उदास होने की जरुरत नहीं है आप उस company के mutual fund मे निवेश कर सकते है 2000 रूपए भी और आप भी 10000 का शेयर 2000 मे खरीद सकते है!

 

  • Ashok के चेहरे पर चमक आ जाती है और वो पूछता है कैसे और ये mutual fund kya hota hai?

 

Mahesh उसे समझाता है की जैसे आपके पास सिर्फ 2000  रूपए है आप इसे company के mutual fund मे लगा सकते है! आज कल बहुत सारी बड़ी कंपनियो ने अपना mutual fund  निकाला होता है!

अब Ashok  के पास 2000 रूपए है! अब  Ashok उस कंपनी के शेयर न खरीद के चेक करेगा की उस कंपनी ने उसका कोई mutual fund भी  निकाला है? अगर हां! तो Ashok अपने पैसे उसके Mutual fund मे invest कर देगा?

अब आप भी सोच रहे होगे की Ashok को क्या मिलेगा और कितने शेयर मिलेगे क्यूंकि शेयर का price तो 10000 रूपए है!

Ashok को 1 पूरा share नहीं मिलेगा उसको उतना प्रतिशत share का मिलेगा जितना उसने invest कीया है  तो आइये देखेये की अब Ashok ने 2000 रूपए invest किये तो उसे   10,000 के हिसाब से कितना प्रतिशत मिलेगा?

Share price है 10000

निवेश कीया = 2000

प्रतिशत = 2000/10000*100= 20 %

तो अब Ashok के पास उस कंपनी के 1 share का 20% है! अब अगर उस company का profit या loss होता है तो Ashok भी 1 share के 20% के हिसाब से profit या loss होगा!

तो देखा हमने की कैसे 10000 वाला share Ashok ने सिर्फ 2000 मे खरीद लिया ! ये सिर्फ संभव हुआ mutual fund की मदद से, ऐसा शेयर मार्किट मे possible नहीं है की आप आधा आधा share ले! Share market मे तो आपको पूरा ही शेयर लेना पड़ता है!

तो ये तो 1 बहुत ही simple सा example था समझाने के लिए की mutual fund kya hota hai?

Mutual fund मे बहुत सारे लोग मिल के पैसे लगाते है! परन्तु इसका मतलब ये नहीं की वो लोग आपके पास आयेगे और बोलोगे की पैसा लगाओ पैसा लगाओ! कोई भी व्यक्ति कितना भी पैसा Mutual fund मे लगा सकता है!

आपको बता दे की कोई भी Mutual fund बहुत सारे funds से मिल के बना होता है! मतलब mutual fund मे अलग अलग companies के shares भी हो सकते है! ये बात थोडा tricky है की ऐसा कैसे ! ये हम निचे थोडा detail मे देखेगे!

 

Mutual fund कैसे बनता है?

 

आपके दिमाग मे ये question भी आ  रहा होगा की अगर Mutual fund कोई share नहीं है तो ये बनता कैसे है? कौन बनाता है  इसे?

अगर ये देखे की mutual fund कैसे बनता है तो किसी भी company के mutual fund मे बहुत सारी companies के shares हो सकते है और ये shares की मात्रा अलग अलग होती है! आएये 1 example से समझते है!

Example के लिए मै SBI का SBI banking financial services fund direct growth  Mutual fund  लेता हू! अगर हम इस fund को देखे तो इस fund  मे बहुत सारे banks का हिस्सा है जिनमे ये fund लोगो के पैसे invest करता है!

निचे photo मे आप देख सकते है की इस fund मे सबसे ज्यादा हिस्सा HDFC bank का है जो की 25% है! ICICI, Kotak Mahindra और बाकी banks का भी हिस्सा है इसमें! इसका मतलब ये है की अगर आप मान लीजिए 100 रूपए इस Mutual fund मे invest करेगे तो ये fund  आपके 100 रूपए का 25.4% हिस्सा HDFC मे invest करेगा और बाकी हिस्सा उसी के मुताबिक़ invest करेगा जैसा इसकी Top holding मे दिखाया गया है! Top holding का मतलब है की ऐसे कौन कौन से companies है! जिनमे किसी Mutual fund का हिस्सा हो!

  

अब आप हैरान हो रहे होगे की हमने Mutual fund तो SBI का लिया फिर ये HDFC, ICICI और kotak Mahindra जैसे बैंक बीच मे कहा से आ गए?

तो हम आपको बता दे की ये सब Fund Manager पर निर्भर करता है!  

Fund manager अब ये क्या है ?

 

Fund Manager कौन होता है?

 

Fund Manager 1 इंसान या 1 से ज्यादा इंसान भी हो सकते है जो की किसी Mutual fund को मिल के design करते है! Design मतलब वो लोग ये decide करते है की किसी mutual fund मे किन किन companies के shares को लिया जाए और कितने प्रतिशत उनका हिस्सा होगा!

अगर हम SBI banking financial services fund direct growth की बात भी करे तो इसका भी कोई न कोई fund manager होगा!

 आप देख सकते है की SBI banking financial services fund direct growth  mutual fund के 2 manager है!

 

 

NAV क्या है?

 

NAV-Kya-hai

 

अब आपके मन मे ये सवाल आ रहा होगा की मान लो हमने 1000 रूपए किसी कंपनी के mutual fund मे लगा दिए तो हमें क्या मिलेगा ?  हमें shares मिलेगे ? token मिलेगा या फिर क्या मिलेगा?

दोस्तों, Mutual fund का तरीका थोडा अलग होता है! जब आप किसी भी mutual fund मे निवेश करते है तो आपको उस mutual fund के उस दिन के value के हिसाब से NAV मिलता है!

अब ये NAV क्या होता  है?  NAV का पूरा नाम है – Net Asset Value

NAV का मतलब होता है कि किसी दिन का Mutual fund का value उस दिन market मे कितना है!  

अब हमने देख लिया कि कोई भी mutual fund 1 या 1 से ज्यादा companies के shares  से मिलकर बना होता है! अब मान लो किसी दिन उस किसी company का share down चला गया या ऊपर चढ़ गया तो उस दिन उस mutual fund के NAV मे उतना ही फरक नजर आएगा!

यही funda होता है NAV का! तो आपको वो NAV रोज Calculate करके आपके mutual fund की value को update कर देगे! इसका मतलब ये है की आपकी Mutual fund की value भी market के हिसाब से घटती –बढती रहेगी जैसे की Share market मे होता है!

जैसे मंदी का असर share market पर पड़ता है और उसके share भी ऊपर निचेहोते रहते है उसी प्रकार mutual fund की NAV भी घटती बढती रहती है!

एक तरफ से देखा जाए mutual funds एक तरह का share जैसा ही होता है! क्यूंकि इसकी value भी share की तरह ऊपर निचे होती रहती है! और ख़ास बात की ये बनता तो सभी companies के shares से ही है ना!

तभी आपने भी देखा होगा की अब भी TV या कही और mutual fund की ad आती है तो ये लिखा होता है की  

निवेश market risk के अधीन है| investment करने से पहले दस्तावेजो को ध्यान से पढ़े!”

ऐसा ही कुछ लिखा होता है जो वो लोग फटा फट पढ़ जाते है!

 

Mutual Fund का Return कितना होता है?

 अगर हम ये देखे की mutual fund कितना return देता है तो मे आपको सीधा सीधा सच ये कहुगा की ये सारा कुछ market की पोजीशन पर depend करता है ! हाँ अगर हम इसको saving account के return से compare करेगे तो उससे ये ज्यादा ही होता है क्यूंकि आज कल saving account मे return हमें 3-5 % के बीच मे मिलता है!

Mutual fund मे return 8-10 % मिल जाता है परन्तु ये सब depend करता है आपने कितने समयके लिए mutual fund को market मे निवेश कीया और market की स्तिथि भी निर्भर करती है क्यूंकि जैसा मैंने पहले कहा की mutual fund भी एक तरह का share जैसा ही है जो बाज़ार के उतार-चडाव से जुड़ा हुआ है!

 

Types of Mutual Fund – Mutual fund के प्रकार

Mutual Fund के भी types या प्रकार होते है! जिनमे आप निवेश कर सकते है! जैसे की Liquid Fund, ELSS Fund, Debt Fund, Short fund, Ultra short fund इत्यादि! कुछ Mutual fund ऐसे होते है जिनमे आप थोड़े समय के लिए अपना पैसा लगा सकते है और कुछ Mutual fund ऐसे होते है की जिनमे आप अगर लम्बे समय तक पैसा लगायेगे तो आपको काफी अच्छा return मिलेगा! तो आपको भी अपना पैसा invest करने से पहले ये सोच समझ के पैसा लगाना है कि कौन से Mutual fund मे पैसे लगाये! निचे हम discuss करते है कुछ mutual funds की types जिसको आप थोडा समझ के फिर उनमे मे पैसा लगा सकते है!

  • Tax Saving Fund: कुछ mutual fund ऐसे भी होते है जिनमे आप पैसा लगा कर काफी अच्छा return तो पाते ही है साथ मे आपको Income Tax 80C के अन्दर tax छुट भी मिलती है! इन funds को tax saving या ELSS fund भी कहते है! इन fund मे आप 150,000 रूपए सालाना निवेश करते है तो वो सारे Tax free होगे! मतलब एक तो आपको उस पर tax नहीं देना होगा और जब आप उन पैसो को निकलेगे तब भी आपको सरकार को कुछ नहीं देना!

         परन्तु ELSS fund का  locking period होता है जो कि 3 साल का होता है! Locking period मतलब की आप अपना पैसा तब तक नहीं निकाल सकते जब तक की 3 साल पूरे ना हो जाए!  Same वैसे ही होता है जैसे Tax saving FD मे होता है! अगर आपने आज कोई पैसा ELSS fund मे डाला है तो आज का पैसा आप ठीक आज से 3 साल बाद निकाल पाएगे!

  • Liquid Mutual Fund: Liquid Mutual fund मे आप कभी भी पैसा लगा सकते है और कभी भी आप अपना पैसा निकाल सकते है! इसमें exit load जैसा कुछ नहीं होता! Liquid fund मे return भी saving account के return से ज्यादा मिलता है और इसमें market risk भी कम होता है! ये fund भी आपको 6-8% सालाना return दे जाता है!

 आप liquid fund मे हर महीने कुछ न कुछ पैसे डाल सकते है ! और जब भी आपको जरुरत हो बस आप इसमें से पैसे निकाल सकते है आपको कोई exit load नही लगेगा और ना ही इसमें कोई locking period जैसा कुछ है! कभी भी पैसा डालिए और कभी भी निकालिए!

 

  • Debt Mutual fund: जैसा की हमने अभी तक पढ़ा की mutual fund मे risk होता है market के कुछ mutual fund ऐसे भी होते है इनमे पैसे लगाने मे risk कम होता है! ऐसे mutual fund को debt mutual fund कहते है ! ये mutual fund अपना पैसा government securities, bonds वगेरा मे लगाते है!

 

जहा पर Government का नाम आ जाता है वहा risk कम हो जाता है! तो जिन लोगो को थोडा पैसे का risk कम लेना है वो debt mutual fund मे पैसा लगा सकते है! परन्तु debt Mutual fund मे return ELSS और बाकी mutual fund से कम होता है क्यूंकि जितना कम risk उतना कम return होता है !

कुछ और भी mutual fund होते है जैसे की index fund, balanced fund और भी कई तरह के fund होते है इन सबके बारे मे हम फिर किसी article मे पढेगे!

 

आज के लिए बस इतना ही दोस्तों , मुझे उम्मीद है आपको मेरा ये post जो की what is mutual fund in hindi के ऊपर है आपको पसंद आया होगा ! मैं mutual fund की और जानकारी देने का भी प्रयास करूँगा!    

 

Share this:

3 thoughts on “What is Mutual Fund in Hindi”

Leave a Comment